Online Business

Blogging in Hindi – ब्लॉगिंग क्या है – Blog क्या है और Blogging कैसे करते है

Google+ Pinterest LinkedIn Tumblr

अगर आप ब्लॉगिंग (blogging) मैं अपना कैरियर बनाना चाहते हैं और एक ब्लॉग (blog) बनाकर बहुत सारा पैसा कमाना चाहते हैं तो स्वागत है आपका इस ब्लॉग पोस्ट मैं।

दोस्तो अभी के समय पर, वेब (internet) पर 600 मिलियन से भी अधिक ब्लॉग हैं। क्या आप नहीं चाहते कि आप blog भी इसमैं शामिल हो?

इस blog post मैं आप पाएंगे A-to-Z information blogging के बारे मैं जैसे कि:

  • ब्लॉग क्या है – What is a Blog
  • ब्लॉगिंग क्या है? – What is blogging?
  • ब्लॉगर कौन है? – Who is a blogger?
  • वेबसाइट और ब्लॉग में क्या अंतर है – Difference between website and blog
  • सबसे अच्छा ब्लॉगिंग प्लेटफार्म – Best blogging platforms
  • ब्लॉग कैसे बनाये – How to make a blog
  • ब्लॉग के प्रकार – Types of the blog
  • ब्लॉग के फायदे – Benefits of Blogging
  • ब्लॉगिंग गलतियाँ – Blogging Mistakes
  • ब्लॉग से पैसे कैसे कमाए – How to Make Money from Blogging
  • ब्लॉगिंग टिप्स हिंदी में – Blogging Tips in Hindi
  • FAQ on Blogging.

मुझे यकीन हैं इससे बड़िया information आपको blogging के बारे मैं हिन्दी मैं कहीं नहीं मिलेगी।

दोस्तो, यह article लंबा है और आपको इसको पूरा पड़ना है। यकीन मानिए इस ब्लॉग पोस्ट को पड़ने के बाद आप एक successful blog बना पाएंगे और blogging कि field मैं लाखों रुपये भी कमा पाएंगे और financial freedom भी प्राप्त कर लेंगे।

नोट: ब्लॉगिंग को शुरू करना आसान है मगर इसमे success पाने के लिए आपको hard work, dedication और smart work की जरूरत होती है।

तो चलिये जाने कि एक ब्लॉगिंग क्या होती है और एक successful blogging कैरियर कैसे बनाया जाए।

ब्लॉग क्या है – What is a Blog

Page Contents

एक ब्लॉग – “वेबलॉग” को छोटा नाम है – Blog is short form of Weblog.

Blog एक ऑनलाइन जर्नल (online journal) या सूचनात्मक वेबसाइट (informational website) है जिसमे आप अपने articles लिखते हैं। ब्लॉग मैं जानकारी उल्टे क्रम में प्रदर्शित होती है – मतलब कि नयी ब्लॉग पोस्ट पहले दिखाई देती हैं।

Blog एक ऐसा platform है जहां एक लेखक जिसे blogger भी कहा जाता है, एक व्यक्तिगत विषय या बिज़नस विषय पर अपने विचार साझा करता है दुनिया के साथ।

कई ब्लॉग एक विशेष विषय पर ध्यान केंद्रित करते हैं, जैसे कि वेब डिज़ाइन, टेक्नालजी, खेल, या Mobiles।

एक ब्लॉग का उपयोग किसी व्यवसाय की marketing के लिए किया जा सकता है और एक ब्लॉग से आप अपना एक home based business भी बना सकते हैं।

एक ब्लॉग में कुछ चीजें शामिल होती हैं:

what-is-a-blog-structure-of-blog
  • Header जिसमे एक menu or navigation bar होता है।
  • Main content area जहां पर latest blog posts होती हैं।
  • Sidebar जिसमे social profiles, about us, search bar, ads, or call-to-action होते हैं।
  • Footer area जहां पर links होते है जैसे कि disclaimer, privacy policy, terms of use, about us, contact page, etc.

ब्लॉग का मुख्य उद्देश्य आपको दर्शकों से जोड़ना है, उनको उपयोगी जानकारी देना है और उनका विश्वास जीतना है।

अगर आप Professional blogging करते हैं तो आप अपने लिए एक passive income भी generate कर सकते हो।

ब्लॉगिंग क्या है? – What is blogging?

Blogging अपने आप को व्यक्त करने का एक शानदार तरीका है और दूसरों के साथ जानकारी साझा करने का भी एक शानदार तरीका है।

ब्लॉगिंग लोगों के साथ जल्दी से सूचना और समाचार को प्रसारित करने और फैलाने के सबसे लोकप्रिय तरीकों में से एक बन गया है।

Blogging एक ऐसी skill है, जिससे एक ब्लॉग को चलाने और नियंत्रित करने मैं आवश्यकता होती है।

आपको ब्लॉगिंग मैं articles लिखना होता है, पोस्ट करना होता है, लिंक करना और लोगों से साझा करना होता है।

ब्लॉगिंग करने से आप एक बेहतर इंसान और बेहतर लेखक बनते हैं।

ब्लॉगिंग प्रत्येक गुजरते दिन के साथ बढ़ती जा रही है और कमाल की बात यह है की आप इसे full time career भी बना सकते हैं और money earn कर सकते हैं।

ब्लॉगर कौन है? – Who is a blogger?

एक ब्लॉगर वह है जो किसी ब्लॉग को चलाता और नियंत्रित करता है।

Bloggers अपने जीवन के कुछ हिस्सों को लोगों से साझा करना पसंद करते हैं।

वे कला, टेक्नालजी, स्पोर्ट्स, वित्त से विभिन्न विषयों मैं पोस्ट लिखते हैं।

एक ब्लॉगर अपना काम कहीं से भी कर सकता है और उन्हें एक स्थान पर होना आवश्यक नहीं है।

बस उन्हे एक लैपटाप और इंटरनेट कनैक्शन की जरूरत होती है blogging करने के लिए।

वे इंटरनेट पर रहते हैं तो इसलिए उन्हे digital nomad भी कहा जाता है।

इंटरनेट के माध्यम से, ब्लॉगर्स लोगों के एक बड़े समूह के साथ संवाद कर सकते हैं।

ब्लॉगर पैसा कमाते हैं, लेकिन यह एक जल्दी अमीर बनने वाला पेशा नहीं है, इसमे बहुत मेहनत लगती है।

आप एक blogger को ऐसे समझ सकते हैं – Blogger एक ब्लॉग का मालिक होता है। वो ब्लॉग को जीवित रखता है (नई पोस्ट पोस्ट करता है, जानकारी, और इन्फॉर्मेशन साझा करता है।

वेबसाइट और ब्लॉग में क्या अंतर है – Difference between website and blog

बहुत से लोग एक वेबसाइट और एक ब्लॉग में क्या अंतर है जानना चाहते हैं।

एक ब्लॉग एक वैबसाइट ही होती है बस सबसे बड़ा अंतर होता है की ब्लॉगों को अक्सर अपडेट किया जाता है।

एक ब्लॉग आपको अपने readers से connect होने का मौका देता है।

दूसरी तरफ, एक website मैं बड़े पैमाने पर सदाबहार content ही होता है जो बहुत जल्दी अपडेट नहीं किया जाता है। एक Website मैं एक तरफ़ा संचार (one-way communication) हो पता है।

तो यह है वो main difference एक ब्लॉग और एक वैबसाइट मैं।

सबसे अच्छा ब्लॉगिंग प्लेटफार्म – Best blogging platform

एक अच्छा ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म कैसे चुनना है एक कठिन काम है क्योंकि कई अलग-अलग ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म आप को मिल जाएंगे। आपको य पता लगाना कि कौन सा आपके लिए सही है आसान नहीं है।

कोई भी ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म को चुनने से पहले ये जानलेना जरूरी हैं – क्या उसका install करना आसान है, कितनी जल्दी आप उस ब्लॉगिंग प्लैटफ़ार्म को सीख सकते हैं, और इसके लिए क्या किसी कोडिंग कौशल (coding skills) की आवश्यकता तो नहीं है।

चलिये आप के लिए सबसे अच्छे ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म की तुलना करें। और अंत मैं हम आपको बताएँगे की आप को कौनसा blogging platform चुनना चाहिए।

1. WordPress.com

wordpress-free-blogging-platform

WordPress.com एक ब्लॉग होस्टिंग की सेवा है Automattic company के द्वारा।

WordPress.org के सह-संस्थापक मैट मुलेनवेग (Matt Mullenweg) ने Automattic कंपनी बनाई है।

WordPress.com आपको मुफ्त में एक basic ब्लॉग होस्टिंग सेवा प्रदान करता है। आप इस hosting मैं custom domain name, और अन्य प्रीमियम सेवाओं जैसे अतिरिक्त विकल्प खरीद सकते हैं।

आपको WordPress.com मैं सेटअप की आवश्यकता नहीं है और इसका उपयोग और प्रबंधन करना आसान है।

WordPress.com मैं आपको अपने ब्लॉग का विस्तार करने के लिए सीमित विकल्प हैं। आप अपने ब्लॉग को कस्टमाइज़ करने के लिए कस्टम थीम (theme) और plugins का उपयोग भी नहीं कर सकते।

WordPress.com आपको अपने ब्लॉग पर विज्ञापन नहीं चला देता है। और सबसे बड़ी बात इस ब्लॉग को आप अपना ब्लॉग नहीं कह सकते और WordPress.com आपके blog को कभी भी निलंबित कर सकता है यदि वे पाते हैं कि आप उनकी सेवा शर्तों का उल्लंघन कर रहे हैं।

2. Blogger

blogger-by-google

Blogger – Google द्वारा एक मुफ्त ब्लॉगिंग सेवा है।

Blogger by Google एक ब्लॉग बनाने का एक बहुत आसान तरीका प्रदान करता है।

ब्लॉगर सबसे शुरुआती ब्लॉगिंग प्लेटफार्मों में से एक है।

Blogger पर एक मुफ्त ब्लॉग (free blog) शुरू करने के लिए बस आपको एक Google account चाहिए।

Blogger platform के कुछ फायदे हैं: ब्लॉगर फ्री है, आप बिना किसी तकनीकी कौशल के भी इस ब्लॉग को चला सकते हैं, Google AdSense को active करा सकते हैं और आखिरी मैं Google की security का लाभ आपको मिलेगा।

Blogger platform के कुछ नुकसान हैं: आपको बेसिक ब्लॉगिंग टूल (basic blogging tools) मिलेंगे और नई सुविधाएँ नहीं जोड़ सकते हैं, ब्लॉग के डिज़ाइन के विकल्प भी सीमित हैं, काफी कम टेम्पलेट उपलब्ध हैं और सबसे बड़ी कमी है की Google किसी भी समय आपके ब्लॉग को निलंबित कर सकता है।

3. Medium

medium-blogging-platform

Medium का blogging platform लेखकों, ब्लॉगर्स, पत्रकारों और विशेषज्ञों के समुदाय में काफी विकसित हुआ है।

Medium काफी हद तक एक सोशल नेटवर्किंग साइट (social networking website) की तरह काम करता है जहाँ पर आप एक खाता बना सकते हैं और अपने लेख को प्रकाशित करना शुरू कर सकते हैं।

Medium blogging platform के कुछ फायदे हैं: इसका उपयोग करना आसान है, इसमे सेटअप की आवश्यकता नहीं है और आपको coding की आवश्यकता भी नहीं है।

Medium platform के कुछ नुकसान हैं: डिज़ाइन के मामले में सुविधाएँ बहुत ही सीमित हैं, Medium आपके ब्लॉग का स्वामी है, इसलिए आपके ब्लॉग को खोने का अर्थ है आपके सभी followers को खोना, आप अपना custom डोमेन नाम का उपयोग नहीं कर सकते और आप पैसा कमाने के लिए विज्ञापन नहीं चला सकते।

4. Tumblr

Tumblr-blogging-platform-blog

Tumblr एक माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म है जिसमे सोशल नेटवर्किंग सुविधाओं आपको मिलती हैं जैसे की अन्य ब्लॉगों को फॉलो करना, बिल्ट-इन शेयरिंग टूल का होना।

Tumblr एक Tumblr subdomainके साथ फ्री है।

Tumblr को setup करना और उपयोग करना बहुत आसान है।

Tumblr मैं आपको सीमित options मिलते हैं जिन्हें आप अपने ब्लॉग को grow करने के लिए यूस नहीं कर सकते।

आप एक कस्टम डोमेन का उपयोग कर सकते हैं मगर आप advertising का प्रयोग नहीं कर सकते।

5. WordPress.org

wordpress-free-blog

WordPress.org दुनिया का सबसे लोकप्रिय ब्लॉगिंग का सॉफ्टवेयर है। इसकी शुरुआत 2003 में हुई और अब वर्डप्रेस (WordPress) इंटरनेट पर सभी वेबसाइटों के 30% से अधिक अधिकार रखता है।

WordPress.org एक ओपन सोर्स (open source) फ्री ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है जो आपको कुछ ही मिनटों में अपनी वेबसाइट या ब्लॉग बनाने की सुविधा देता है।

WordPress.org एक स्व-होस्टेड समाधान (self-hosted solution) है जिसका अर्थ है कि आपको वर्डप्रेस होस्टिंग प्रदाता (WordPress hosting provider) के साथ साइन अप करना होगा।

दोस्तो यदि आप अपने ब्लॉग के भविष्य पर पूर्ण नियंत्रण रखना चाहते हैं और उसे एक बिज़नस की तरह चलाना चाहते हैं, तो वर्डप्रेस आपके लिए एक बढ़िया विकल्प है।

WordPress blogging platform के कुछ फायदे हैं: अपनी वेबसाइट के हर पहलू पर आपका नियंत्रण होता है, आप अपने ब्लॉग को विकसित कर सकते हैं और फ़ोरम, Membership sites, ऑनलाइन स्टोर जैसी अतिरिक्त सुविधाएँ जोड़ सकते हैं, वर्डप्रेस के लिए हजारों मुफ्त थीम उपलब्ध हैं जो आप यूस कर सकते हैं अपने ब्लॉग के डिज़ाइन को अच्छा बनाने के लिए, मुफ्त प्लगइन्स आपको मिलते हैं जो आपके ब्लॉग के लिए किसी ऐप की तरह हैं और जो आपको extra features जोड़ने की अनुमति देते हैं और आखिरी मैं वर्डप्रेस सर्च इंजन फ्रेंडली (SEO friendly) है।

WordPress blogging platform के कुछ नुकसान हैं: आपको अपने खुद के ब्लॉग को manage करना सीखना पड़ेगा, backup लेना पड़ेगा, etc. वैसे ये सीखने मैं कुछ अधिक समय नहीं लगता है।

तो दोस्तो यह थे कुछ blogging platforms जहां आप अपना ब्लॉग create कर सकते हैं। अगर आप शुरुआत कर रहें हैं तो आप Blogger platform के संग जा सकते हैं मगर आप ज़िंदगी मैं कुछ बड़ा करना चाहते हैं तो आप WordPress.org के साथ जाएँ और अपना self-hosted blog create करें।

हमारा recommendation आपके लिए है की आप WordPress.org के साथ एक self-hosted blog बनाये।

WordPress.org मैं ब्लॉग बनाने के लिए आपको अपना domain name और web hosting लेनी होगी जिसके बारे मैं, मैं आपको आगे जानकारी दूंगा।

ब्लॉग कैसे बनाये – How to make a blog

सबसे पहले, आपको अपने ब्लॉग के लिए एक नाम तय करने की आवश्यकता है जिसे एक डोमेन नाम भी कहा जाता है।

Domain name मूल रूप से आपकी वेबसाइट का URL है। उदाहरण: google.com (Google.com डोमेन है), Twitter.com (Twitter.com डोमेन है)।

उसकी बाद आप सबसे अच्छा ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म चुनें। हम स्वयं-होस्ट किए गए प्लेटफ़ॉर्म के साथ जाने की सलाह देते हैं। जब self-host किए गए प्लेटफ़ॉर्म की बात आती है तो कुछ विकल्प होते हैं लेकिन सबसे लोकप्रिय है WordPress.org जैसा मैंने आपको ऊपर बताया है।

फिर आपको एक वेब होस्टिंग सेवा (web hosting service) चुनने की आवश्यकता है और नए ब्लॉगर्स के लिए, मैं आपको Bluehost की सिफारिश करता हूँ, जो कि दुनिया भर में 2 मिलियन से अधिक वेबसाइटों को web hosting provide करता है।

जब आप उनके साथ साइन अप करेंगे तो आपको एक मुफ्त डोमेन नाम मिलेगा और यदि आप उनकी hosting पसंद नहीं आती, तो वे 30-दिन की मनी-बैक गारंटी भी प्रदान करते हैं।

Hosting आपके ब्लॉग को इंटरनेट पर डालती है ताकि बाकी सभी लोग इसे देख सकें। आप web hosting को इंटरनेट पर एक कंप्यूटर हार्ड-ड्राइव के रूप में सोचें जहां आपका ब्लॉग को जगह दी जाएगी।

Step 1 – Best Web Hosting

इस लिंक पर क्लिक करें और आप एक “विशेष ऑफ़र” पेज पर जाएंगे। एक बार जब आप वहां पहुंचते हैं तो “Get Started Now” बटन पर क्लिक करें।

bluehost-home-page

Step 2 – Buy Hosting

यदि आपका पहला होस्टिंग खाता है, तो आपको Basic plan से शुरू करना चाहिए, क्योंकि आपको अपनी आवश्यकताओं और विकल्पों को निर्धारित करने के लिए समय की आवश्यकता होगी।

अगर आप अपने ब्लॉग के लिए बेस्ट प्लान लेना चाहते हैं तो आप Choice Plus प्लान के साथ जा सकते हैं – यह प्लान value for money है – इस प्लान मैं आप unlimited blogs चालू कर सकते हैं। हमारा ब्लॉग भी Bluehost मैं hosted है और हम Choice Plus का प्रयोग करते हैं।

Step 3 – Create a new domain name

अपने ब्लॉग के लिए एक अच्छा सा डोमेन नाम सोचें और जब एक बार आप ऐसा कर लेते हैं, तो “Create a new domain” कॉलम में नाम दर्ज करें और अपना टॉप-लेवल डोमेन (top level domain e.g. .com, .net, .org) चुनें।

जैसे ही आप domain name डालेंगे तो आपको दिखाएगा कि यह उपलब्ध है या नहीं।

आप अगर future मैं और डोमैन नाम खरीदना चाहते हैं तो आप Namecheap का प्रयोग भी कर सकते हैं जो एक trusted domain name provider company है।

Step 4 – Install WordPress

Hosting account create होने के बाद आपको Admin Panel (Cpanel) मैं जाना होगा और वहाँ पर “One-Click” वर्डप्रेस इंस्टॉल का प्रयोग करके WordPress को install करना होगा।

एक बार जब वर्डप्रेस आपके ब्लॉग पर install हो जाता है, तो आपको ब्लॉगिंग शुरू करने के लिए बस इतना करना होगा कि आप अपने wp-admin पेज पर जाएं, www.yourblogname.com/wp-admin और एक नई पोस्ट लिखना शुरू करें।

Step 5 – Design of your Blog – WordPress Theme

अब अपने Blog के लिए डिजाइन को customize करें। एक WordPress theme चुनें और अपने blog के डिज़ाइन को customize करें।

Step 6 – Install WordPress Plugins

WordPress plugins को install करें। आप premium plugins को भी install कर सकते हैं जो आपके blog को powerful बना देंगे।

इस तरह से आप एक ब्लॉग बना पाएंगे। अगर आपको ऊपर दिये गए steps मैं कहीं पर भी दिक्कत आती है तो आप online tutorials देख सकते हैं Google मैं और YouTube।

ब्लॉग के प्रकार (Types of the blog)

ब्लॉग बनाते समय, ब्लॉग का सही प्रकार चुनना बहुत महत्वपूर्ण है।

ब्लॉग का प्रकार ब्लॉग के उद्देश्य को दर्शाता है।

चलिये कुछ popular blog types के बारे मैं जाने:

1. Personal Blog – व्यक्तिगत ब्लॉग

Personal blog किसी विशिष्ट विषय या दर्शकों पर ध्यान केंद्रित नहीं करता है।

इस ब्लॉग प्रकार मैं ब्लॉगर अपनी hobbies के बारे में लिखते हैं: उनमैं शौक, दैनिक जीवन, राजनीति, खेल आदि शामिल होते हैं, और वे उन लोगों को आकर्षित करते हैं जो same interests को साझा करते हैं।

लेखक सिर्फ अपना ज्ञान या अनुभव साझा करना चाहता है।

2. Affiliate Blog

इस प्रकार के ब्लॉग के लिए content उत्पादों पर केंद्रित होता है।

एक affiliate blog आमतौर पर उत्पादों की समीक्षा या उत्पादों का उपयोग करने के ट्यूटोरियल के रूप में होता है।

इसमे कॉल टू एक्शन ब्लॉग मैं दिये गए लिंक के माध्यम से उत्पाद खरीदना होता है।

3. Niche Blog

एक Niche blog एक विशिष्ट विषय पर केंद्रित होता है।

बहुत बार ये शौक ब्लॉग होते हैं और छोटे व्यक्तिगत व्यवसाय ब्लॉग (और कभी-कभी बड़े पैमाने पर व्यवसाय) में बदल जाते हैं।

एक niche blog मैं कुछ लोकप्रिय विषयों में शामिल हैं:

  • टेक्नालजी – Technology
  • वित्त – Finance
  • खेल – Sports
  • खाना – Food
  • यात्रा – Travel
  • समाचार – News
  • व्यापार – Business
  • वर्डप्रेस – WordPress etc.

एक niche blog एक बेस्ट ब्लॉग का टाइप है अगर आप blogging से पैसा कमाना चाहते हैं। बस एक niche (market) मैं काम करें और अपने ब्लॉग को grow करें।

वैसे तो और भी ब्लॉग के प्रकार होते हैं मगर अधिकतर यह ब्लॉग टाइप्स ही पोपुलर हैं।

ब्लॉगिंग के फायदे – Benefits of Blogging

Blogging करने के बहुत फायदे होते हैं जो आपको ज़िंदगी मैं काफी काम आते हैं।

चलिये ब्लॉगिंग के कुछ benefits को जाने।

1. आप नई चीजें सीखेंगे

जब आप ब्लॉग करते हैं तो आप दूसरों को न केवल पढ़ाते हैं आप भी कुछ नया सीखते हैं।

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपको दूसरों को सिखाने के लिए खुद को शिक्षित करने की आवश्यकता होती है।

आप अन्य क्षेत्रों के बारे में भी बहुत कुछ सीखेंगे, जैसे कि ऑनलाइन मार्केटिंग, SEO, Writing.

2. आप नए लोगों से जुड़ेंगे

ब्लॉगिंग का सबसे बड़ा लाभ दूसरों के साथ जुड़ना है।

आप ब्लॉगिंग के द्वारा वास्तविक संबंध बनाते हैं। आप उन लोगों से दोस्ती करते हैं जिनसे आप अन्यथा नहीं मिलते।

3. आपको नौकरी के प्रस्ताव प्राप्त होंगे

ब्लॉगिंग से आपको नौकरी भी मिल सकती है।

ऐसे व्यवसाय जो content marketing के लाभों को पहचानते हैं, हमेशा उन कर्मचारियों की तलाश में रहते हैं जो excellent content बना सकते हैं।

आप संभवतः उन लोगों से मिल पाएंगे जो नौकरी के पदों के लिए भर्ती कर रहे हैं।

4. ब्लॉगिंग आपको स्वतंत्रता दे सकती है

ब्लॉगिंग आपको किसी भी स्थान से और किसी भी समय काम करने की आज़ादी देता है।

इसके अलावा, आपको उन चीजों को करने का मौका भी मिलता है, जिन्हें आप करना पसंद करते हैं जैसे कि अपने परिवार के साथ अधिक समय बिताना, travel करना, और social work के कार्यक्रमों में भाग लेना।

यदि आप यात्रा करना पसंद करते हैं, तो ब्लॉगिंग आपको दुनिया की सुंदरता को देखने में मदद करता है क्यूंकी ब्लॉगिंग करने के लिए आपको एक internet connection और एक laptop के जरूरत होती है।

5. आप एक बेहतर लेखक बनेंगे

बस बैठने और लिखने के अनुशासन से आपके लेखन कौशल में काफी सुधार होगा।

आपकी writing better होती जाती है जितना अधिक आप लिखते हैं।

ब्लॉगिंग गलतियाँ – Blogging Mistakes

चलिये जानते हैं कुछ ऐसी blogging mistakes के बारे मैं जो नए ब्लॉगर करते हैं जब वे ब्लॉगिंग शुरू करते हैं।

1. बिना जुनून के ब्लॉगिंग करना

कई नए ब्लॉगर गलत कारणों से ब्लॉगिंग की शुरुआत करते हैं। जब तक आपके पास चुने हुए विषय के लिए जुनून नहीं होगा तब तक आप कभी भी अपने ब्लॉग को एक सफल blog नहीं बना पाएंगे।

2. नकल करना content की

आप internet पर हजारों ऐसे ब्लॉग पा सकते हैं जो अन्य ब्लॉगों से पोस्ट को चोरी करते।

इस तरह के bloggers कभी सफल नहीं होते क्योंकि सर्च इंजन इतने उन्नत हो गए हैं कि वे आसानी से उन्हें search engine results pages (SERP) से बाहर कर सकते हैं।

3. तेज परिणामों की उम्मीद

कोई भी ब्लॉगर जो यह सोचता है कि वो तेजी से ब्लॉगिंग करके परिणाम प्राप्त कर लेंगे तो ये उनकी गलतफहमी है।

ब्लॉगिंग एक long term game है जिसमें कई साल लगते successful blogger बनने मैं।

Google पर आपके ब्लॉग को rank और index करने में लगभग 3 से 6 महीने तक का समय लग सकता है।

4. अपने ब्लॉग का प्रचार नहीं करना

कुछ नए ब्लॉगर केवल Google जैसे search engines पर निर्भर होने की महत्वपूर्ण गलती करते हैं।

यह कभी-कभी उनकी विफलता का कारण होता है। जितना अधिक आप अपने ब्लॉग को बढ़ावा देते हैं उतना ही अधिक आप कमाते हैं और इसलिए आप उच्च रैंक करेंगे।

5. खराब होस्टिंग का उपयोग करना

कई नए ब्लॉगर अपनी वेब होस्टिंग खरीदते समय बेकार hosting ले लेते हैं।

उनके blog मैं जब अधिक ट्रैफ़िक मिलता है तो उनकी साइट धीमी होने लगती है। आप ब्लूहोस्ट जैसे एक अच्छे पेशेवर वेब-होस्ट को खोजें, जो आपके 5-स्टार सेवा देगा।

ब्लॉग से पैसे कैसे कमाए – How to Make Money from Blogging

चलिये जाने कुछ ऐसे तरीके जिससे आप ब्लॉगिंग से पैसे कमा सकते हैं।

1. अपने Blog पर Google AdSense लगाकर

Google Adsense आपके ब्लॉग से पैसे कमाने का लिए एक बहुत ही आसान तरीका है।

आपको बस अपने ब्लॉग पर Google से एक स्क्रिप्ट जोड़ने और विज्ञापन प्रदर्शित करने की आवश्यकता है।

जब users विज्ञापन पर क्लिक करेंगे तो आपको हर बार भुगतान किया जाएगा। इन्हें CPC विज्ञापन कहा जाता है। CPC का अर्थ है “Cost per click”.

जब आप पहली बार blogging शुरू कर रहे हैं तो Google Adsense ऑनलाइन पैसा कमाने का एक अच्छा तरीका है।

Google AdSense का एक विकल्प Media.net है जिसे आप चेक कर सकते हैं।

2. Affiliate Marketing – संबद्ध विपणन के साथ पैसे कमाएँ

Affiliate Marketing एक ऐसा बिज़नस मोडेल होता है जब आप विशेष ट्रैकिंग लिंक (special tracking link) का उपयोग करके अपने दर्शकों को एक उत्पाद या सेवा देने की सलाह देते हैं।

और फिर हर बार जब कोई व्यक्ति आपके लिंक पर क्लिक करने के बाद कुछ product या service को खरीदता है, तो आपको एक रेफरल कमीशन (referral commission) मिलता है। Affiliate marketing को performance based marketing भी कहा जाता है।

हर उद्योग के लिए affiliate programs internet मैं उपलब्ध हैं।

आप कुछ popular affiliate programs को join कर सकते हैं:

  • Amazon
  • Shareasale
  • Commission Junction (CJ)
  • Impact
  • Rakuten Linkshare

एक बार जब आपको affiliate networks से अनुमति मिल जाती है तो आप उनके products और services को promote करें और अपने affiliate link को उन products मैं लगाएँ – आप इस के लिए Pretty Link (cloaking) नाम के WordPress Plugin का प्रयोग कर सकते हैं।

दोस्तो Affiliate marketing ऑनलाइन पैसा बनाने का सबसे आसान तरीका है जिसमे बस products को प्रोमोट करना है और कोई inventory या service नहीं देनी होती – आप बस एक intermediary की तरह काम करते हैं।

बस आपको अपनी audience के लिए अच्छे products और services को recommend करना है। कभी भी घटिया प्रोडक्टस को प्रोमोट नहीं करें – ऐसा करने से आपके readers का नुकसान हो सकता है।

3. Sell Ebooks – ईबुक बेचें

ई-बुक्स लिखने और उत्पादन करने के लिए बहुत आसान हैं।

यदि आप कुछ समय से ब्लॉगिंग कर रहे हैं, तो आप अपने कुछ पुराने ब्लॉग पोस्ट को जमा कर कर सकते हैं और उन्हें एक पुस्तक के अध्यायों में बदल सकते हैं और इसकी एक ebook बना सकते हैं।

आप चाहें तो अपने ebook किसी और से भी लिखवा सकते हैं।

तो एक बार जब आपकी पुस्तक लिखी जाती है, तो आप Canva और Crello जैसे टूल का उपयोग करके एक ebook कवर डिजाइन कर सकते हैं और अपने ईबुक की एक पीडीएफ बना सकते हैं।

आप इस ebook को अपने ब्लॉग से sell कर सकते हैं या आप इस ebook को Amazon Kindle मैं भी लिस्ट कर सकते हैं।

4. ऑनलाइन पाठ्यक्रम बेचें – Sell Online Courses

दोस्तो ऑनलाइन कोर्स बेचना एक पैसे कमाने का शानदार तरीका है।

Online Courses आमतौर पर ई-बुक्स की तुलना में बहुत अधिक कीमत मैं बेचे जाते हैं।

एक बार जब आप अपना online course बना लेते हैं, तो आप अपने readers को course को प्रदान करने के लिए एक लर्निंग मैनेजमेंट सिस्टम (एलएमएस) प्लगइन – Learning Management System (LMS) का उपयोग कर सकते हैं।

आप LearnDash और MemberPress plugins का प्रयोग कर सकते हैं अपने online courses को deliver करने के लिए।

5. ईकॉमर्स बिजनेस शुरू करें – Start an E-commerce Business

अगर आपके पास कुछ ऑनलाइन सेल करने के लिए product है तो आप अपना Online Store (ऑनलाइन स्टोर) शुरू कर सकते हैं।

आप एक मुफ्त WooCommerce plugin की मदद से एक e-commerce store अपने मौजूदा ब्लॉग से शुरू कर सकते हैं।

आप WooCommerce के विकल्प के रूप में Shopify का उपयोग भी कर सकते हैं।

ब्लॉगिंग टिप्स हिंदी में – Blogging Tips in Hindi

1. अपने दर्शकों को जानें – Get to Know Your Audience

अपनी audience को जानना एक बहुत महत्वपूर्ण चीज़ है। जब आप अपनी audience को जानेगे तो आपको पता चलेगा की आप किसके साथ बात कर रहे हैं और आप किस तक पहुंचना चाहते हैं।

आपसे जितना संभव हो उतनी सरल भाषा मैं लिखें, क्योंकि सरल भाषा अधिक साझा हो जाती है।

2. शानदार सुर्खियां लिखें – Write Great Headlines

दोस्तो, ज्यादातर लोग हेडलाइन पढ़ते हैं और तब हे तय करते हैं कि क्या वे अधिक जानना चाहते हैं इस ब्लॉग पोस्ट के बारे मैं।

आप अपनी ब्लॉग पोस्ट्स के लिए अच्छी headlines लिखें और देखें ये कितना फर्क लाता है आपके ब्लॉग की readership को बढ़ाने मैं।

इसलिए आप खूब अच्छी सुर्खियाँ लिखिए – कम से कम 10 से 15 मिनट सुर्खियों को लिखने पर लगाएँ।

3. चित्रों का उपयोग करें – Use Images in your blog posts

चित्र आपकी पोस्ट को देखने में मदद करते हैं जब उनको सोशल मीडिया चैनलों पर साझा किया जाता है।

लोगों को images पसंद आती हैं, और pictures को समझना काफी आसान होता है।

4. सभी माध्यमों में अपनी Articles को Share करें

आप जब भी कोई ब्लॉग पोस्ट लिखते हैं तो यह सुनिश्चित करें की आप उस ब्लॉग पोस्ट को सोशल मीडिया मैं प्रचार के लिए शेर करें – ऐसा करने से आपकी पोस्ट अधिक से अधिक लोगों तक पहुँच पाएगी।

आप फेसबुक (Facebook), ट्विटर (Twitter), Pinterest और लिंक्डइन (LinkedIn) पर अपने articles के लिंक पोस्ट और share करें।

5. Google Analytics को इंस्टॉल करें

अगर आप ये जानना चाहते हैं कि आपके ब्लॉग पर कौन जा रहा है, कैसे, कब और कहां से आ रहा है तो आपको Google Analytics को अपने ब्लॉग मैं इन्स्टाल करना चाहिए।

Google Analytics पूरी तरह से free है और आप इसकी मदद से ये जान पाएंगे की कौनसी ब्लॉग पोस्ट सबसे ज्यादा ट्रैफिक ला रही है आपके ब्लॉग पर।

कुछ महत्वपूर्ण वेबसाइट मैट्रिक्स (website metrics) जो आप ट्रैक कर सकते हैं: Visitors (new and returned), bounce rate, conversion rate, exit pages, etc.

Blogging FAQ

डोमेन नाम क्या होता है और मुझे इसकी आवश्यकता क्यों है? – What is a Domain Name and Why I Should Buy One?

दोस्तो, एक डोमेन नाम (domain name) एक web address होता है। उदाहरण के लिए, हमारे ब्लॉग का domain name है investingchimp.com. आपको अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को इंटरनेट पर डालने के लिए आपको एक डोमेन नाम रखना होता है।

मुझे कोडिंग नहीं आती – क्या मैं तब भी एक ब्लॉगर बन सकता हूं? – I don’t know how to code, can I still become a blogger?

एक ब्लॉगर बनने के लिय आपको किसी भी कोडिंग कौशल या किसी भी तकनीकी ज्ञान होने के जरूरत नहीं है।
ऐसे कई ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म उपलब्ध हैं जो आपको blogging मैं स्टार्ट करना बहुत आसान बना देते हैं।

क्या मुझे अंग्रेजी भाषा या अपनी मातृभाषा में ब्लॉग लिखना चाहिए? In Which Language Should I start my blog – English, Hindi or regional language?

आपको किस language मैं अपना ब्लॉग शुरू करना चाहिए, यह सब आपके ब्लॉग के विषय और आपके interest or passion पर निर्भर करता है।

अपने आप से ये पूछें कि आप अपने ब्लॉग से क्या हासिल करना चाहते हैं। अंग्रेजी के साथ blog शुरू करने मैं आपका ब्लॉग सारी दुनिया से देखा जा सकता वै। इसका मतलब यह भी है कि आपकई competition अन्य ब्लॉगों के साथ है जो आपके विषय के बारे में अंग्रेजी भाषा में लिखे रहे हैं। हिन्दी भाषा में लिखने से दर्शकों की संख्या कम हो सकती है लेकिन आपको competition भी कम मिलेगा।


तो दोस्तो ये थी पूरी जानकारी ब्लॉगिंग के बारे मैं – Blogging in Hindi – ब्लॉगिंग क्या है – Blog क्या है और Blogging कैसे करते है।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये article पसंद आई होगी|अगर आपको इस post से फायदा हुआ है तो आप इस पोस्ट को share करें अपने friends और family members के साथ|

आपको पसंद आएंगे – You Might Also Like

Write A Comment

Pin It